Essay on Rural Development for UPSC Mains

Rural India is a settlement in India’s maximum text and India’s economy also depends on rural India, that’s why we need to take rural India forward. Will have to work hard, education of the people who are in our rural India has to be made, their health will have to be improved, their knowledge will have to be increased more and more, only then we will be able to imagine a successful India, we will tell you today through our marriage tomorrow, rural about development.

भारत देश का मैक्सिमम पाठ में रूरल इंडिया बस्ती है और भारत की इकोनामी भी रूरल इंडिया पर डिपेंड करती है इसीलिए हमें यह चाहिए रूरल इंडिया को आगे ले जाना अगर हम भारत की इकोनामी को बढ़ाना चाहते हैं तो निश्चित रूप से रूरल इंडिया पर अधिक से अधिक मेहनत करना होगा हमारे रूरल इंडिया में जो व्यक्ति हैं उनकी एजुकेशन को बनानी होगी उनके स्वास्थ्य को अच्छी करनी होगी उनके नॉलेज को और अधिक से अधिक बढ़ाना होगा तभी हम एक सफल भारत की कल्पना कर पाएंगे हम अपनी शादी कल के माध्यम से आज आपको बताएंगे रूरल डेवलपमेंट के बारे में



70 percent of India’s population lives in rural area while 30 percent live in urban area, we can know that even in 30 percent urban area, 10 percent live in large city and red ant means whose population is more than 1 million. There are more 388 sirs which are from one lakh to one million.

भारत की जनसंख्या का 70 परसेंट रूरल एरिया में बसते हैं जबकि 30 परसेंट अर्बन एरिया में रहते हैं यह हम जान सकते हैं कि 30 परसेंट अर्बन एरिया में भी 10 परसेंट लार्ज सिटी में रहते हैं और लाल चींटी का मतलब होता है जिसका जनसंख्या 1 मिलियन से अधिक है 388 सर ऐसे हैं जो एक लाख से एक मिलियन तक है

Introduction

Rural development is very important for the country of India because the rural economy of India has a very important contribution in Gross Domestic Product i.e. GDP, we know that today India is living in a lot of population of the country in rural areas, for them growth on capita income health It is very important to take care of things like Education Job and Implementation Poverty so that their standard can be increased. If we talk about the per capita income of rural India, then it is less than the urban area, then we have to focus on the good health and nutrition of the area with the comparison by taking all these things into consideration and mainly focus on resource development. We will have to pay attention to infant mortality rate so that rural area development can be done and only after developing all these, the education system of the rural area in Royal India is going, jobs and going by paying attention to all these things.

रूरल डेवलपमेंट भारत देश के लिए बहुत जरूरी है क्योंकि ग्रॉस डॉमेस्टिक प्रोडक्ट अर्थात जीडीपी मैं भारत देश की रूरल इकोनामी का बहुत महत्वपूर्ण योगदान है हम जानते हैं कि आज भारत देश की बहुत अधिक पापुलेशन रूरल एरिया में रह रही है उनके लिए ग्रोथ पर कैपिटा इनकम हेल्थ एजुकेशन जॉब एंड इंप्लीमेंट पॉवर्टी जैसी चीजों का ध्यान रखना बहुत जरूरी है ताकि उनकी स्टैंडर्ड को बढ़ाया जा सके आज के समय में रूरल एरिया का ग्रोथ को अगर हम देखें तो वह अर्बन एरिया के ग्रोथ से कम है और इन चीजों पर हमें ध्यान देने की जरूरत है अगर हम रूरल इंडिया की पर कैपिटा इनकम की बात करें तो वह अर्बन एरिया से कम है तो हमें इन सभी चीजों को ध्यान देकर यह कंपैरिजन के साथ एरिया की अच्छी हेल्थ और न्यूट्रीशन पर ध्यान देना होगा तथा रिसोर्स डेवलपमेंट पर मुख्य रूप से ध्यान देना होगा इन्फेंट मोर्टालिटी रेट पर ध्यान देने की ताकि रूरल एरिया डेवलपमेंट किया जा सके और इन सभी के डिवेलप करने के बाद ही हम रॉयल इंडिया में जो रूरल एरिया है वहां की एजुकेशन सिस्टम जा रही है जॉब और जा रही है इन सभी चीजों को ध्यान देकर इसे सही करना होगा

What is Rural Development?

It is very important to understand the rural development course and understand the different aspects of rural development growth inflation GDP unemployment so that we can understand that rural development can be urban development, what are the opportunities in rural development and employment avenues what are in urban development Post is unity and there are ways of improvement, but today we are going to understand rural development in our own way, through which we will understand that what are the opportunities in rural development and what are the unequal developments, so that we need to improve.

रूरल डेवलपमेंट कोर्स समझना और रूरल डेवलपमेंट की ग्रोथ इन्फ्लेशन जीडीपी अनइंप्लॉयमेंट के अलग-अलग पहलू को समझना बहुत जरूरी है ताकि हमें समझ सके कि रूरल डेवलपमेंट हो सके अर्बन डेवलपमेंट हो सके रूरल डेवलपमेंट में क्या अपॉर्चुनिटी है और एंप्लॉयमेंट के रास्ते हैं अर्बन डेवलपमेंट में क्या पोस्ट यूनिटी है और इंप्रूवमेंट के रास्ते हैं लेकिन आज हम अपने हिसाब में रूरल डेवलपमेंट को समझने जा रहे हैं जिसके माध्यम से हम यह समझेंगे कि रूरल डेवलपमेंट में कौन-कौन से अपॉर्चुनिटी है कौन-कौन सी अनइक्वल डेवलपमेंट हो रहे हैं जिससे हमें सुधारने की जरूरत है

Village Development is more important than focusing on big cities like Kolkata and Bombay. (कोलकाता और बम्बई जैसे बड़े शहरों पर ध्यान देने से ज्यादा जरूरी है ग्राम विकास)

The future of India lies in its village. (गांव में है भारत का भविष्य)

India lives in villages. (भारत गांवों में रहता है)

~~By Mahatma Gandhi (महात्मा गांधी द्वारा)

If we talk about population distribution, then we will understand how we will understand rural population and urban population, we will be able to understand rural and distribution and we will understand urban land distribution. How will we be able to take it forward, all these things have to be understood, today we can see that by promoting natural development, rural development will go ahead because farmers will be able to produce more and more. Development of rural areas to develop the country. It is very important to do this and the way the development of rural area will progress, in that way the country will move forward, in the way that attention was given to agriculture development in 1970, social and economic development was focused in 1980, since then all of us have done this. Understand that the development of our rural area is very important to improve them and when the way we move forward, many focussy areas come for us, from which we have to pay attention to develop the rural area such as food, health Good education, good home, good sanitation, they can get loans easily, they can get employment, having good infrastructure is also very important for rural development, there should be more and more skill development courses in education.

अगर हम पॉपुलेशन डिस्ट्रीब्यूशन की बात करते हैं तो हमें यह समझ में आएगा कि हम किस प्रकार से रूरल पापुलेशन और अर्बन पापुलेशन को समझ पाएंगे रूरल एंड डिस्ट्रीब्यूशन को समझ पाएंगे और अर्बन लैंड डिस्ट्रीब्यूशन को समझ पाएंगे रूरल एरिया में एग्रीकल्चर प्रमुख साधन है और हम इसे किस प्रकार से आगे ले जा पाएंगे इन सभी चीजों को समझना होगा आज हम देख पाते हैं कि नेचुरल डेवलपमेंट को बढ़ावा देने से रूरल डेवलपमेंट आगे बढ़ेगी क्योंकि किसान अधिक से अधिक उपज करने में सक्षम हो पाएंगे देश को डिवेलप करने के लिए रूरल एरिया का डेवलपमेंट करना बहुत जरूरी है और रूरल एरिया का ग्रोथ जिस प्रकार से आगे बढ़ेगी उस प्रकार से देश आगे बढ़ता चला जाएगा जिस प्रकार से 1970 में एग्रीकल्चर डेवलपमेंट पर ध्यान दिया गया 1980 में सोशल एंड इकोनामिक डेवलपमेंट पर ध्यान दिया गया तभी से हम सभी लोगों ने यह समझा कि हमारी रूरल एरिया का डेवलपमेंट उनकी इंप्रूवमेंट करना बहुत जरूरी है और जब हम जिस प्रकार से आगे बढ़ते हैं तो हमारे लिए बहुत सारे फोकस्की एरिया आ जाते हैं जिससे हमें ध्यान देना होगा रूरल एरिया को डिवेलप करने के लिए जैसे कि भोजन स्वास्थ्य शिक्षा अच्छी घर अच्छा सैनिटेशन उनको आसानी से लोन मिल सके एंप्लॉयमेंट मिल सके अच्छी इंफ्रास्ट्रक्चर का होना भी रूरल डेवलपमेंट के लिए बहुत जरूरी है एजुकेशन में अधिक से अधिक होनी चाहिए स्किल डेवलपमेंट कोर्स चाहिए ताकि आसानी से रूरल एरिया आगे बढ़ सके

Focus Area in Rural Development

  1. Food (खाना)
  2. Health (स्वास्थ्य)
  3. Education (शिक्षा)
  4. Low Interest Loans (कम ब्याज ऋण)
  5. Competitive Prices (प्रतिस्पर्धी मूल्यों)
  6. Employment Opportunity (रोजगार के अवसर)
  7. Infrastructure (आधारभूत संरचना)
  8. Agricultural Credit (कृषि ऋण)
  9. Agricultural Marketing System and Agricultural Diversification (कृषि विपणन प्रणाली और कृषि विविधीकरण)
  10. Sustainable Development and Organic Farming (सतत विकास और जैविक खेती)

Ministry of Rural Development

The Ministry of Rural Development, a branch of the Government of India, is entrusted with the task of accelerating the socio-economic development of rural India. Its focus is on health, education, piped drinking water, public housing and roads.

Rural Development -Rural Credit

Rural credit has a very important contribution in rural development because the use of rural credit, farming, harvesting, selling, fulfills the need of farmers at any place at any time because the farmer has very little capital, very little money and that money Also, due to inflation, their value gradually decreases, the value of money goes on decreasing, to help the farmers at this place, to help the farmers, to get a loan from the bank, RRB Bank like Regional Rural Bank can get help from Post Office Saving Get help from the scheme Informal credit union can get help so that it can move forward.

रूरल डेवलपमेंट में रूरल क्रेडिट का बहुत महत्वपूर्ण योगदान है क्योंकि रूरल क्रेडिट का उपयोग फार्मिंग हार्वेस्टिंग सेलिंग किसी भी समय में किसी भी जगह पर किसानों को जरूरत को पूरा करता है क्योंकि किसान के पास बहुत कम पूंजी होती है बहुत कम पैसे होते हैं और वह पैसे भी इन्फ्लेशन के कारण उनकी वैल्यू धीरे-धीरे कम होती चली जाती है वैल्यू ऑफ मनी कम होती चली जाती है इस स्थान पर किसानों को मदद करने के लिए बैंक से लोन मिल सके आरआरबी बैंक जैसे कि रीजनल रूरल बैंक से मदद मिल सके पोस्ट ऑफिस सेविंग स्कीम से मदद मिल सके इनफॉरमल क्रेडिट यूनियन से मदद मिल सके ताकि वह आगे बढ़ सके

National bank for Agriculture and Rural Development

National Bank for Agriculture and Rural Development is an apex regulatory body for overall regulation and licensing of regional rural banks and apex cooperative banks in India. It is under the jurisdiction of Ministry of Finance, Government of India.

Indian rural credit system

  • Commercial bank (वाणिज्यिक बैंक)
  • Regional rural bank (क्षेत्रीय ग्रामीण बैंक)
  • Cooperative Bank (सहकारी बैंक)
  • Land Development Bank (भूमि विकास बैंक)
  • Micro Finance or micro credit ( self help group – SHGs) (माइक्रो फाइनेंस या माइक्रो क्रेडिट (स्वयं सहायता समूह – एसएचजी))

Rural Development -Agri-Marketing System

Agricultural marketing is a process that involves assembly storage processing transportation packaging grading and distribution.

कृषि विपणन एक ऐसी प्रक्रिया है जिसमें असेंबली भंडारण प्रसंस्करण परिवहन पैकेजिंग ग्रेडिंग और वितरण शामिल है

APMC model Act 2003

  • Facilitates contract farming model (अनुबंध खेती मॉडल की सुविधा प्रदान करता है)
  • Special market for perishables (खराब होने वाली वस्तुओं के लिए विशेष बाजार)
  •  Farmers private persons can set up on markets (किसान निजी व्यक्ति बाजारों पर स्थापित कर सकते हैं)
  •  Licensing norms relaxed (लाइसेंसिंग मानदंडों में ढील)
  •  Single market fee (एकल बाजार शुल्क)
  • APMC revenue to be used for improving market infrastructure (APMC राजस्व का उपयोग बाजार के बुनियादी ढांचे में सुधार के लिए किया जाएगा)

Leave a Comment

error: